हमें लूटने के तरीके पता है।

हमें लूटने के तरीके पता है।
हमें वोट देना तुम्हारी खता है।।
हमें सबकी सेहत की चिंता बहुत है
रसोई से अरहर तभी लापता है।।
उसे जम के पीटो इसे रौंद डालो
ये मेरी निज़ामत में हक़ मांगता है।।
अभी पेंच हमने तनिक हैं घुमाये
अभी से ये बन्दा बहुत चीखता है।।
इसे बोलना है तो हमसे बताये
सवाल है कि क्यों बोलना चाहता है।।
इसे एड और गिफ्ट हरगिज न देना
ये जनता की आवाज ही छापता है।।
तुम जी रहे थे तुम्हारी खता थी
अब लुट रहे हो तुम्हारी खता है।।
मेरे हाथ में अस्त्र है इस वजह से
सभी मानते हैं कि हम देवता हैं।।

Comments

Popular posts from this blog

रेप और बलात्कार

शरद पवार को जबाब देना होगा

सेना को हर बार बधाई